सूर्य ग्रहण Solar Eclipse का महासंयोग धर्म vs विज्ञान पर बड़ी बहस के. सिद्धार्थ सर

सूर्य ग्रहण का महासंयोग धर्म vs विज्ञान पर बड़ी बहस के. सिद्धार्थ सर के साथ

सूर्य ग्रहण का महासंयोग, क्या 6 ग्रह बदलेंगे आपकी ज़िंदगी ? धर्म vs विज्ञान पर बड़ी बहस के. सिद्धार्थ सर K Siddhartha के साथ TV9 Bharatvarsh पर इस साल का आखिरी सूर्य ग्रहण 26 दिसंबर, 2019 (5 पौष, शक संवत 1941) को लगने जा रहा है जो वलयाकार सूर्य ग्रहण होगा अर्थात पूर्णग्रास नहीं बल्कि खंडग्रास सूर्य ग्रहण होगा. इससे पहले इस साल 6 जनवरी और दो जुलाई को आंशिक सूर्यग्रहण लगा था.पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय द्वारा मंगलवार को एक बयान में बताया गया कि भारत में सूर्योदय के बाद इस वलयाकार सूर्य ग्रहण को देश के दक्षिणी भाग में कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु के हिस्सों देखा जा सकेगा जबकि देश के अन्य हिस्सों में यह आंशिक सूर्य ग्रहण के रूप में दिखाई देगा.#suryagrahan #suryagrahan2019 #solareclipse2019

K Siddhartha यांनी वर पोस्ट केले गुरुवार, २६ डिसेंबर, २०१९

सूर्य ग्रहण Solar Eclipse का महासंयोग, क्या 6 ग्रह बदलेंगे आपकी ज़िंदगी ? धर्म vs विज्ञान पर बड़ी बहस के. सिद्धार्थ सर K Siddhartha के साथ TV9 Bharatvarsh पर

इस साल का आखिरी सूर्य ग्रहण Solar Eclipse 26 दिसंबर, 2019 (5 पौष, शक संवत 1941) को लगने जा रहा है जो वलयाकार सूर्य ग्रहण होगा अर्थात पूर्णग्रास नहीं बल्कि खंडग्रास सूर्य ग्रहण होगा. इससे पहले इस साल 6 जनवरी और दो जुलाई को आंशिक सूर्यग्रहण लगा था.

View our Blog: https://ensembleias.com/blog/

पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय द्वारा मंगलवार को एक बयान में बताया गया कि भारत में सूर्योदय के बाद इस वलयाकार सूर्य ग्रहण को देश के दक्षिणी भाग में कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु के हिस्सों देखा जा सकेगा जबकि देश के अन्य हिस्सों में यह आंशिक सूर्य ग्रहण के रूप में दिखाई देगा.

सूर्य ग्रहण एक तरह का ग्रहण है जब चन्द्रमा, पृथ्वी और सूर्य के मध्य से होकर गुजरता है तथा पृथ्वी से देखने पर सूर्य पूर्ण अथवा आंशिक रूप से चन्द्रमा द्वारा आच्छादित होता है।

भौतिक विज्ञान की दृष्टि से जब सूर्य व पृथ्वी के बीच में चन्द्रमा आ जाता है तो चन्द्रमा के पीछे सूर्य का बिम्ब कुछ समय के लिए ढक जाता है, उसी घटना को सूर्य ग्रहण कहा जाता है। पृथ्वी सूरज की परिक्रमा करती है और चाँद पृथ्वी की। कभी-कभी चाँद, सूरज और धरती के बीच आ जाता है। फिर वह सूरज की कुछ या सारी रोशनी रोक लेता है जिससे धरती पर साया फैल जाता है। इस घटना को सूर्य ग्रहण कहा जाता है। यह घटना सदा सर्वदा अमावस्या को ही होती है।

Visit our store at http://online.ensemble.net.in

For more details : Ensemble IAS Academy Call Us : +91 98115 06926, +91 7042036287

Email: ensembleias@gmail.com

Visit us:-  https://ensembleias.com/

#suryagrahan #suryagrahan2019 #solareclipse2019 #sun #moon #earth #current_affairs #daily_updates #editorial #geographyoptional #upsc2020 #ias #k_siddharthasir #ensembleiasacademy